Thursday, 19 November 2015

मदिरा मंथन

मदिरा सेवन कर्ता के प्रथम कुछ वर्षों में 100 Pipers बजता है उसे लगता है कि उसका जीवन NO 1 है पर शनेः शनेः उसके जीवन का सूर्य 8PM पे अस्त होने लगता है तब उसकी 'देशी माधुरी' उसका 'सुमिरन करना ऑफ' कर देती है और वो एक असहाय old monk बन के रह जाता है :)

जनहित में जारी -
-तुषारापात®™