Tuesday, 10 November 2015

ताश के आध्यात्मिक पत्ते

दिवाली का त्यौहार और ताश के खेल का कॉम्बिनेशन तो सभी रात्रि जागरण करने वाले बहुत अच्छी तरह से समझते हैं। ताश के बदनाम पत्तों को देखकर अचानक ख्याल आया की इसमें तो पूरी दुनिया का ज्ञान छुपा है।
ताश के 52 पत्तों की एक अपनी पूरी दुनिया है जो हमारी दुनिया से बहुत मिलती जुलती है बादशाह और बेगम,हमारी दुनिया के शाषन करने वालों जैसे हैं और गुलाम कहने को ही बस गुलाम है वास्तव में वो 10 पत्तों को अपने नीचे दबा के रखता है और व्यवस्था बनाये रहता है जैसे हमारे IAS या PCS अधिकारी आदि ।बाकी 10 से 2 तक के पत्ते आम इंसानों जैसे अपनी अपनी हैसियत अनुसार रहते हैं।
अब बात करते हैं इक्के की कि वो क्या है ? इक्के की हैसियत बादशाह के भी ऊपर है और दुक्की के नीचे भी है तो उसे क्या कहा जा सकता ? मेरे हिसाब से इक्का उस ईश्वर या उपरवाले का प्रतीक है जिसकी हम अलग अलग रूप में इबादत करते हैं,उसे सबसे बड़ी शक्ति भी मानते हैं और सबका आधार भी,यानि बादशाह के भी ऊपर और दुक्की के नीचे का भी ,ताश का पहला और आखिरी पत्ता भी इक्का ही है।
पत्तों के अलग रंग और प्रकार अलग अलग मजहब और रहन सहन को दिखाते हैं जिनके अपने अपने ख़ुदा हैं (हुकुम,ईंट,चिड़ी और पान और उनके इक्के),रूप रंग में अलग होते हुए भी मूल रूप से सब एक ही व्यवस्था का पालन करते हैं।
अच्छा आप सबने ये भी देखा होगा की ताश की गड्डी में दो या तीन जोकर भी मिलते हैं जो आमतौर पे खेल में काम नहीं आते और गड्डी की डिब्बी में बेकार पड़े रहते हैं और हम उन्हें भूल भी जाते हैं,हाँ जब कोई पत्ता गुम हो जाता है और पूरी गड्डी बेकार हो सकती है तब उनका इस्तेमाल होता है,अब सवाल उठता है उन्हें क्या नाम दूं फिर अचानक ख्याल आया की ये शायद उस ब्रह्म शक्ति उस सबसे बड़ी ताकत को दिखाते हैं जिन्हें हम जानते भी नहीं क्यूंकि इक्के तो हमारी कल्पना के खुदा हुए पर ये जोकर वास्तविक सर्वोच्च शक्ति के अवतार के रूप में आते हैं जब गड्डी यानि संसार खतरे में होता है।
और जनाब जरा गौर से देखिएगा,सारे पत्तों का असली रंग हम माया में पड़े लोगों की तरह हल्का पड़ जाता है पर इन जोकरों का रंग वैसा ही पाएंगे जैसी नई गड्डी के पत्तों का होता है
जाइये देखिये रंग जाँचिये और हाँ मुझे बताइएगा जरुर ,इस गड्डी का कौनसा ताश का पत्ता आपसे मिलता है ?

(वैधानिक चेतावनी:- जुआ खेलना आप और समाज दोनों के लिए हानिकारक है।)

-तुषारापात®™